You are here
Home > Banking > विजय माल्‍या 100% पैसा लौटाने को तैयार, सरकार और बैंकों से की अपील- पाई-पाई चूका दूंगा

विजय माल्‍या 100% पैसा लौटाने को तैयार, सरकार और बैंकों से की अपील- पाई-पाई चूका दूंगा

विजय माल्या ने 5 दिसंबर को एक के बाद एक ट्वीट किए. उन्‍होंने कहा, ”राजनेता और मीडिया लगातार तेज आवाज में मेरे डिफाल्‍टर होने की बात कह रहे हैं जोकि सार्वजनिक बैंकों का पैसा लेकर भाग गया.

विजय माल्या ने 5 दिसंबर को एक के बाद एक ट्वीट किए.(फाइल फोटो)

मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों का सामना कर रहे भगोड़े बिजनेसमैन विजय माल्या ने कहा है कि वह बैंकों से लिया पूरा कर्ज चुकाने को तैयार हैं. लेकिन, वह सिर्फ प्रिसिंपल अमाउंट ही लौटाएंगे. खास बात यह है कि विजय माल्या ने बैंकों और सरकार से अनुरोध किया है कि वह इसे स्वीकार करें. विजय माल्या ने 5 दिसंबर को एक के बाद एक ट्वीट किए. उन्‍होंने कहा, ”राजनेता और मीडिया लगातार तेज आवाज में मेरे डिफाल्‍टर होने की बात कह रहे हैं जोकि सार्वजनिक बैंकों का पैसा लेकर भाग गया. ये आरोप झूठे हैं और गलत हैं. मुझे कर्ज लौटाने का मौका क्‍यों नहीं दिया जा रहा और इसी तेज आवाज में कर्नाटक हाई कोर्ट के समक्ष मेरे समग्र सेटेलमेंट वाली बात को ऊंची आवाज में क्‍यों नहीं कहा जाता…यह दुखद है.”

विजय माल्‍या ने अपनी किंगफिशन एयरलाइंस के दिवालिया होने और बैंकों के कर्ज के मसले पर कहा, ”एयरलाइंस आंशिक रूप से एटीएफ कीमतों में बढ़ोतरी के कारण वित्‍तीय संकटों का सामना कर रही थी. किंगफिशर एयरलाइन को तेल की सर्वाधिक क्रूड कीमतों 140 डॉलर/बैरल का सामना करना पड़ा. इससे घाटा बढ़ता गया और बैंकों का कर्ज इसमें खर्च हुआ. मैं बैंकों के कर्ज का 100 प्रतिशत मूलधन लौटाने को तैयार हूं. कृपया इसे ले लीजिए.”

Politicians and Media are constantly talking loudly about my being a defaulter who has run away with PSU Bank money. All this is false. Why don’t I get fair treatment and the same loud noise about my comprehensive settlement offer before the Karnataka High Court. Sad. 
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 5, 2018

Airlines struggling financially partly becoz of high ATF prices. Kingfisher was a fab airline that faced the highest ever crude prices of $ 140/barrel. Losses mounted and that’s where Banks money went.I have offered to repay 100 % of the Principal amount to them. Please take it.
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 5, 2018

इसके साथ ही विजय माल्‍या ने कहा, ”तीन दशकों से भारत की सबसे बड़ी एल्‍कोहल ब्रीवरेज ग्रुप का संचालन कर रहे हैं. इससे टैक्‍स के रूप में सरकारी खजाने को सैकड़ों करोड़ रुपये का योगदान दिया है. किंगफिशर एयरलाइंस भी इस मद में अच्‍छा योगदान कर रही थी. उसका नुकसान में जाना दुखद रहा…”

For three decades running India’s largest alcoholic beverage group, we contributed thousands of crores to the State exchequers. Kingfisher Airlines also contributed handsomely to the States. Sad loss of the finest Airline but still I offer to pay Banks so no loss. Please take it.
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 5, 2018

इसके बाद एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने कहा, ”अपने प्रत्‍यर्पण के मसले पर मीडिया पर चल रही बहस को मैंने देखा है. यह अलग मसला है और कानून अपने हिसाब से काम करेगा. सबसे अहम बात जनता के पैसे की है और मैं इसे 100 प्रतिशत वापस करने को तैयार हूं. मैं विनम्रतापूर्वक बैंकों और सरकार से इसे स्‍वीकार करने का आग्रह करता हूं. लेकिन यदि इसे अस्‍वीकार किया जाता है तो बताइए, क्‍यों?”

I see the quick media narrative about my extradition decision. That is separate and will take its own legal course. The most important point is public money and I am offering to pay 100% back. I humbly request the Banks and Government to take it. If payback refused, WHY ?
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 5, 2018

गौरतलब है कि विजय माल्या पर ईडी ने 9,000 करोड़ रुपये का ऋण नहीं चुकाने का आरोप लगाया है. इसके अलावा उन पर कुछ कर्ज को इधर-उधर करने का भी आरोप है. विजय माल्या 2 मार्च 2016 को जर्मनी होते हुए लंदन गए. जांच एजेंसियों का दावा है कि माल्या संदिग्ध परिस्थितियों में देश छोड़कर गए हैं.

Ankush Kumar
Namaskar, I'm Ankush Kumar Author & Founder of the SabKuchhSikho.com & Ankuonline.co.in I'm also a Youtuber at youtube channel name (Anku Online), share knowledge related to Banking, Internet, Online, Extra Knowledge, etc, in Hindi languages.
https://www.sabkuchhsikho.com

Leave a Reply

Top
Optimization WordPress Plugins & Solutions by W3 EDGE