केंद्र सरकार अबकी बरी BOI की डालेंगे 10,086 करोड़ रुपय

0
55

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने हाल ही में कहा था कि सरकारी क्षेत्र के बैंकों को 28 हजार करोड़ की अतिरिक्त मदद दी जाएगी।

कमजोर बैंकों की वित्तीय हालत को दुरुस्त करने की योजना के तहत केंद्र सरकार ने बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई) को 10,086 करोड़ रुपये की पूंजी देने का फैसला किया है। शनिवार को स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में बैंक ने बताया कि प्रीफरेंशियल आवंटन के जरिए उसे पूंजी मिलेगी।

बैंकों को मिलने वाली इस मदद के बाद उसके कर्ज देने की क्षमता में इजाफा होगा और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन (पीसीए) से बाहर निकलने में मदद मिलेगी।न । इससे आम जनता समेत छोटे व मझोले उद्योगों को ज्यादा कर्ज मिलने का रास्ता भी साफ होगा।

आरबीआई ने पीसीआई में 11 सरकारी बैंकों को रखा हुआ है, जिनके कर्ज देने और नए ब्रांच खोलने पर प्रतिबंध लगा हुआ है।

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सरकारी बैंकों को इस साल के अंत तक 28,615 करोड़ रुपये दिए जाने की घोषणा की थी। दिसंबर अंत तक सबसे ज्यादा 10,086 करोड़ रुपये की राशि बैंक ऑफ इंडिया को मिलनी थी। जबकि दूसरे स्थान पर ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) है, जिसे 5,500 करोड़ रुपये मिलेंगे।

[su_heading]केंद्र ने UCO बैंक में 3,076 करोड़ रुपये की पूंजी डाली-[/su_heading]

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने हाल ही में कहा था कि सरकारी क्षेत्र के बैंकों को 41 हजार करोड़ की अतिरिक्त मदद दी जाएगी। इस मदद के लिए राशि जुटाने को सरकार ने सदन से मंजूरी भी हासिल कर ली है। इस वर्ष सरकार की तरफ से बैंकों को 65 हजार करोड़ के बांड्स जारी होने थे। 23 हजार करोड़ के बांड्स पहले जारी हो चुके हैं जबकि शेष 41 हजार करोड़ के बांड्स अब जारी करने की तैयारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here